मध्य प्रदेश सिवनी

कार्य की गति धीमी, 26 नवंबर तक नहीं मिला पेंच नहर का पानी, किसान परेशान

सिवनी 26 नवंबर 2022 (लोकवाणी)। पेंच परियोजना की माचागोरा नहर से जो पानी सिवनी जिला वासियों को मिलता है उसके मुख्य नहर डी-4 जोकि कपुरदा मार्ग में है उस नहर का काम वर्तमान में चल रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार निर्माण स्थल पर विभागीय अधिकारी मौजूद हैं इसके बावजूद भी काम गति धीमी है। वहीं अधिकारियों ने काम को प्रारंभ करने में देरी की है।
कपूरदा मार्ग पर चल रहे नहर के काम की रफ्तार को देखकर लगता है कि सिवनी वासियों को 10 दिन से 15 दिन पानी के लिए इंतजार करना पड़ेगा। किसानों का कहना है कि जब विभागीय अधिकारियों को काम करवाना ही था तो इतनी लेट काम क्यों करवा रहे है पूर्व में कार्य कराया जाकर समय पर पानी दिया जा सकता था। अब स्थिति यह है कि किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
रबी के मौसम में फसल की बोवनी के लिए किसानों द्वारा पेंच नहर से पानी छूटने का इंतजार किया जा रहा है, शासन प्रशासन से आग्रह है कि समय पर बोवनी को देखते हुए पेंच नहर का पानी शीघ्र छोड़ा जाये। लेकिन वर्तमान स्थिति को देख लगता है कि अधिकारियों की लापरवाहियों के कारण आगे 10 से 15 दिनों बाद ही किसानों को पानी मिल पायेगा। जमीनी स्थिति की बात करें तो 26 नवंबर की स्थिति में भी कार्य प्रारंभ है और किसानों के खेतों तक पानी नहीं पहुंच पाया है जबकि विभागीय अधिकारियों का दावा था कि 25 नवंबर तक पानी किसानों को मिल जाएगा।
ज्ञात हो कि विगत 11 नवम्बर 2022 को पेंच परियोजना के कार्यपालन यंत्री श्री भलावी ेंने कहा था कि माचागोरा बांध की पेंच नहर से पानी 25 नवम्बर तक हर हाल में छोड़ा जाएगा। किसानों के द्वारा बड़ी लालसा से टकटकी लगाकर नहर के पानी छूटने का इंतजार किया जा रहा है। सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि बीते 25 नवम्बर को भी नहर से पानी नही छोड़ा गया है। जहां किसान नहरों से पानी दिए जाने की बात कह रह रहे वहीं अधिकारी मनमाने ढंग से काम कर रहे है जहां 25 नवंबर तक पानी दिए जाने की बात भी अधिकारियों की झूठी निकली। अब किसान प्रशासन से इस ओर ध्यानाकर्षण की बात कर रहा है वहीं सत्ता पक्ष व विपक्ष के नेता व जनप्रतिनिधी भी चुप्पी साधकर तमाशा देख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *